कोरोना वायरस से बचने के उपाय। 1. अपने घरों से बाहर ना निकले, 2. अगर कभी बाहर जाना भी पड़े तो मुह पर face Mask लगाकर ही निकले, 3. बाहर से घर पर आने के तुरंत बाद अपने कपड़ों को धोएं और खुद भी अच्छे से नहाए, 4. जब तक ये वायरस खत्म नही हो जाता तब तक किसी के घर का कुछ भी ना खाएं, 5. भीड़ वाले इलाके में जाने से बचे, 6. अगर आपको या किसी को भी खासी, बुखार, गले मे दर्द है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए,

Friday, 20 March 2020

जनता कर्फ्यू क्या है और इससे क्या प्रभाव पड़ेगा हिंदी में जानकारी

  पूरे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का खौफ चल रहा है। कोरोना वायरस के चलते पूरे देश की अर्थव्यवस्था बिगड़ चुकी है। इसके अलावा कोरोनावायरस से करीब 181 देश इसके चपेट में आ गए हैं। भारत में अब कोरोनावायरस से लगभग 248 मामले सामने आ गए हैं। भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण को बढ़ता देख 31 मार्च तक देश के सभी राज्यों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। सभी सरकारी संस्थानों व प्राइवेट सेक्टरों को बंद करने का आदेश दे दिया गया है। यहां तक की मार्केट की दुकानों को भी बंद करवाया जा रहा है।

कोरोना वायरस की वजह से देश की अर्थव्यवस्था पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कोरोना वायरस को लेकर देश की जनता को संबोधित करते हुए कई प्रकार के प्रोत्साहन दिए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता का मतलब बताया कि "जनता द्वारा जनता पर लगाया गया प्रतिबंध" है। कोरोना वायरस कि बचाव के लिए भारत द्वारा उठाया गया यह कदम काफी लाभदायक हो सकता है। 22 मार्च रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान के पश्चात लोग इस कर्फ्यू का पालन करने के लिए काफी ज्यादा उत्साहित है।

Releted post :- 
:- कोरोना वायरस से कैसे बचा जा सकता है 
:- Study करने का सही तरीका क्या है 
:- Cash Bean से Online Loan कैसे ले सकते है
:- लड़की जब बोले कैसे हो तो क्या रिप्लाई दे
:- लड़की जब पूछे क्या हुआ तो क्या रिप्लाई देना चाहिए 

मैंने आपको अपनी पिछली पोस्ट में बताया था की Corona Virus के प्रभाव से हम कैसे बच सकते है अगर आपने मेरी वो पोस्ट अभी तक नहीं पढ़ी है तो आप ऊपर पिले रंग के लिंक पर क्लिक करके पोस्ट पढ़ सकते हो. आज मैं आपको जनता कर्फ्यू के बारे माँ बताने जा रहा हों जो Corona Virus की चैन को तोड़ने में हमारे लिए मददगार साबित हो सकता है




जनता कर्फ्यू है क्या?

प्रधानमंत्री नरेंद्र द्वारा गुरुवार को अपने भाषण में संबोधित करते हुए जनता को 22 मार्च को सुबह 7:00 बजे से 9:00 बजे तक अपने घर में रहकर इस जनता कर्फ्यू अभियान को पूरे देश में चला कर इस वायरस के संक्रमण से खुद को और देश को बचाए। जनता कर्फ्यू का मतलब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने शब्दों में यह बताया कि जनता द्वारा खुद पर पाबंदी लगाना है। जिसके दरमियान जनता को अपने घर से बाहर नहीं निकलना है। प्रधानमंत्री इस कर्फ्यू की समय सीमा को 14 घंटे रखा है।इसके पीछे भी कोरोना वायरस से बचने का एक बहुत बड़ा कारण है।

 क्योंकि कोरोना वायरस मनुष्य के शरीर में लंबे समय तक जीवित रह सकता है। लेकिन खुले वातावरण में 12 घंटे से ज्यादा जीवित नहीं रह सकता है। 12 घंटे के पश्चात कोरोना वायरस की मृत्यु हो जाती है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाए गए इस जनता कर्फ्यू के दरमियान अगर 14 घंटे तक लोग इस कर्फ्यू का पालन करते हुए घर से बाहर नहीं निकलेंगे! तो वातावरण में उपस्थित सभी कोरोनावायरस कि अपना आप ही मृत्यु हो जाएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह कदम कोरोनावायरस की रोकथाम की पहली जीत बन सकता है। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कर्फ्यू की घोषणा करीब 4 दिन पहले की है और बताया कि अपने परिवारजनों को रोजाना कम से कम 10 लोगों को फोन करके इस वायरस से बचाव करने को कहें।



क्या है इसका मकसद?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई इस जनता कर्फ्यू के पीछे बहुत बड़ा मकसद है। अगर इस मकसद का विस्तार से विश्लेषण किया जाए तो नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई इस जनता कर्फ्यू की पालना पूरे देशवासी करते हैं। तो भारत में 50 फ़ीसदी कोरोना वायरस का खात्मा हो जाएगा।

स्वास्थ्य परीक्षण के पश्चात पता चला है। कि वातावरण में उपस्थित जो चीजें कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। उन पर उपस्थित कोरोना वायरस अधिकतम 12 घंटे तक जीवित रह सकते हैं और इसी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 घंटे का कर्फ्यू रखा है। ताकि कोरोना वायरस स्वयं ही मर जाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कर्फ्यू से पहले घर की आवश्यक सामग्री को खरीदने की सलाह दी है। ताकि 22 मार्च के दिन इस कर्फ्यू का कोई भी देशवासी उल्लंघन ना करें।


Related Post :-
:- Corona Virus full detail in hindi
:- Free Time में क्या करे
:- अपनी Sim से दूसरी Sim में पैसे कैसे Transfer करे
:- Taj Mahal के बारे में पूरी जानकारी
:- Courier कैसे किया जाता है


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कर्फ्यू के लिए राज्य सरकारों को भी आग्रह किया है। आग्रह करते हुए नरेंद्र मोदी जी ने कहा है कि जनता कर्फ्यू को सफल बनाने में जनता का सहयोग दें। यह कदम जनता के लिए उठाया गया है। ताकि देश में कोरोनावायरस के कारण बने इस हालात पर काबू पाया जा सके।

जनता कर्फ्यू से भारत पर क्या पड़ेगा प्रभाव

भारत सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए काफी बड़ा कदम साबित हो सकता है। यदि 22 मार्च के दिन सभी देशवासी इस कर्फ्यू का पालन करते हैं। तो कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए भारत की पहली जीत हो सकती है।

अगर जनता कर्फ्यू की दरमियान सभी लोग इस कर्फ्यू का पालन करते हैं। तो भारत जल्द ही कोरोना वायरस पर काबू पाकर वापस सामान्य स्थिति बना सकता है।

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए उठाया गया यह कदम भारत के लिए बेहद अच्छा साबित हो सकता है। इसके अलावा अगर कोरोनावायरस पर काबू पाया गया। तो भारत की अर्थव्यवस्था पर भी अच्छा प्रभाव पड़ेगा और जल्द ही इस आर्थिक तंगी से भी उभरा जा सकेगा।

जनता कर्फ्यू के दौरान हमें क्या करना चाहिए

देश में जब भी किसी कारण से कर्फ्यू लगता है। तो जनता काफी परेशान होती है। लेकिन 22 मार्च रविवार को लगने वाले इस कर्फ्यू के लिए जनता काफी उत्साहित है और सभी को मिलकर इस जनता कर्फ्यू का सहयोग देना चाहिए। साथ ही इस कर्फ्यू को सफल करने के लिए जनता को अहम कदम भी आपको उठाना चाहिए। जैसे - अपने परिवार जनों को भी इस बारे में बताएं। ताकि कोई भी व्यक्ति इस जनता कर्फ्यू का उल्लंघन ना करें।

देश में कोरोनावायरस के रोकथाम के लिए सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम पर जनता का सहयोग होना बहुत जरूरी है। ऐसे में आप अपना सहयोग देकर खुद को और देश को बचा सकते हैं।


जनता कर्फ्यू के कारण बाजार पर क्या प्रभाव पड़ेगा

जनता कर्फ्यू से बाजार पर देखा जाए तो काफी बुरा प्रभाव पड़ेगा। क्योंकि 1 दिन की भारत बंद होने वाला है। इस बार भारत को बंद करवाने के लिए किसी प्रकार के पुलिस तथा सुरक्षा बलों को तैनात नहीं किया गया है। इस बार भारत को बंद करने में पूरी जनता सहयोग करेगी और इसीलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका नाम जनता कर्फ्यू  रखा है।

अगर रोजाना के आंकड़ों के अनुसार देखें तो 1 दिन के लिए भारत के बाजार के बंद होने पर हजारों करोड़ का नुकसान होगा। लेकिन इस कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए भारत के आर्थिक नुकसान की बजाय इस वायरस पर रोकथाम करना बहुत जरूरी है। जनता कर्फ्यू के कारण 1 दिन के लिए बाजार के सभी व्यापारियों को भी नुकसान झेलना पड़ेगा।

tag lines :-
corona virus se kaise bache, janta corfue kya hai, janta corfue ka fayda kya haim janta corfue ke baare me jankari 

1 comment:

Anonymous said...

I’m really happy to say it was an interesting post to read. I learned new information from your article, you are doing a great job. Continue

whatsapp पर लड़की को hmm के बाद क्या रिप्लाई करना चाहिए हिंदी में पूरी जानकारी

हेलो दोस्तों, मैं एक बार फिर से आप लोगो के साथ अपनी एक नई पोस्ट और नई जानकारी लेकर हाजिर हो गया हूँ. आज की मेरी ये पोस्ट उन सभी लड़के और लड़क...