अंदर की बात

यहां पर आपको जनरल नॉलेज , मोबाइल एप्लीकेशन, इंटरनेट नॉलेज, त्यौहार, हिन्दू रीती रिवाज के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी. इसलिए हमारी वेबसाइट को सब्सक्राइब करना ना भूले

Tuesday, 3 July 2018

इन्वर्टर खरीदते समय किन बातो का ध्यान रखे हिंदी में पूरी जानकारी


हेलो दोस्तों, मैं एक बार फिर से आप लोगो के साथ अपनी एक नई पोस्ट और नई जानकारी लेकर हाजिर हो गया हूँ. आज इन्वर्टर हर घर की जरुरत बन गया है. इसलिए आज मैं आपको इन्वर्टर के बारे में बताने वाला हूँ. आज मैं आपको बतायने वाल हूँ की आप जब भी इन्वर्टर खरीदने जाओ तो किन किन बातो का आपको ध्यान देना चाहिए.
inverter ke baare me jaruri baate 

यहां मैं आपो केवल इन्वर्टर के बारे में बता रहा हूँ. इससे पहले मैं आपको बैटरी खरीदते समय किन किन बातो का ध्यान देना चाहिए. ये आपको बता चुका हूँ. और साथ में ये भी बता चूका हूँ की इन्वर्टर की सिंपल बैटरी और ट्यूबलर बैटरी में क्या फर्क होता है. अब मैं आपको इन्वर्टर के बारे में बताने जा रहा हूँ. तो ज्यादा समय बर्बाद न करते हुए दिशा मुद्दे पर एते है और जानते है की इंवरटर खरीदते समय किन किन बातो का ध्यान रखना चाहिए.


Releted Post :-
:- अपने नंबर को प्राइवेट नंबर में कैसे बदले
:- किसी की भी फोटो खींचकर उसके बारे में सब कुछ जान लो 
:- ट्विटर पर अकाउंट कैसे बनाये 
:- लड़की से उसका whatsapp नंबर कैसे मांगे 
:- RBSE राज्यस्थान 12 वि क्लास का रिजल्ट कैसे देखे 

लोड क्षमता :-
इन्वर्टर हमे उतनी क्षमता वाला लेना चाहिए जिसके हिसाब से हम अपने घर के सभी जरुरत वाले चीजों जैसे पंखा , बल्ब , टेलीविज़न इतियादी को चला सके. एक उदाहरण के तौर पर अगर आपके घर में आपको लाइट जाने के बाद 4 पंखे , 3 बल्ब , और 2 टेलीविज़न चलाने है तो आपका इन्वर्टर इन सब की क्षमता से अधिक क्षमता का होना चाहिए. ताकि अगर आप ये सभी चीजों को एक साथ चला ले तो आपका इन्वर्टर ओवर लोड ना हो.


ट्रांसफार्मर :-
अगर देखा जाए तो वैसे आज सभी इन्वर्टर अल्मुनियम के ट्रांसफार्मर में आ रहे है लेकिन आप कोशिश कीजिये की जहां तक हो सके ताम्बे की तार से बना हुआ ट्रांसफार्मर वाला इन्वर्टर ही ले. कोई आप सभी जानते हो की ताम्बा अल्मुनियम से कहीं अधिक बेहतर होता है.

Releted Post :-
:- paytm पर kyc कैसे करे 
:- फ़ोन का कवर लेते समय किन बातो का ध्यान रखे 
:- फ़ोन पानी में गिर जाए तो क्या करना चाहिए
:- सिर्फ नंबर से जाने कहाँ पर है अभी वो 
:- नया फ़ोन लेते समय किन बातो का ध्यान रखे 

वेव :-
इन्वर्टर 2 तरह के आते है. स्केयर वेव और शाइन वेव. वेव का मतलब हमारे घर में आने वाली बिजली से होता है. शाइन वेव वो बिजली होती है जो बिजली घर से हमारे घरो तक पहुँचती है. अगर हिंदी में बोलू तो शाइन वेव का मतलब प्रत्यावर्ती धारा होती है. जो समांतर रूप से लगातार बहती रहती है.


स्केयर वेव इन्वर्टर जो बिजली उत्पन करता है. उससे हमारे घरो में चलने वाले उपकरण में थोड़ा सा बदलाव आ जाता है. ये बदलाव घर में लगे हुए पंखे में आसानी से देखने को मिल सकता है. जब भी लाइट जाती है और आप इन्वर्टर की बिजली में पंखे को चलते है तो पंखे में से एक आवाज आने लगती है. बस यही शाइन वेव और स्केयर वेव में यही फर्क होता है.

तो ये कुछ बाते थी जिन्हे आपको इन्वर्टर खरीदते समय ध्यान देना चाहिए. उम्मीद करता हूँ आपको मेरी ये पोस्ट अच्छे से समझ में आ गयी होगी. अगर अभी भी आपको इस पोस्ट को लेकर कोई परेशानी है तो आ मुझे कमेंट कर सकते है . मैं आपकी कमेंट का जल्दी ह रिप्लाई करूँगा. धन्यवाद

tag lines :-
inverter kon sa kharide, inverter kaisa hona chahiye, inverer kharidte samay kin baato ka dhyaan rakhe, inverter kitna load leta hai, scare wave or shine wave me kya fark hai, 

No comments:

Earn Talktime Application का सच || Earn Talktime Real or Fake

हेल्लो दोस्तों, आज मैं आपके सामने एक बार फिर से अपनी एक नई पोस्ट और नयी जानकारी लेकर हाजिर हो गया हूँ। आज की मेरी ये पोस्ट उन सभी लोगो...